Breaking

Search This Blog

Sunday, June 3, 2018

ChandraGuptMorya!!Sunday Spacial |Hindi||English

चंद्रगुप्तमौर्य 

चंद्रगुप्तमौर्य 





चन्द्रगुप्त मौर्य का जन्म 340 ईसा पूर्ब मैं पाटिलपुत्र मैं हुआ था ,जो आज बिहार मैं उपस्थित है ,सिकंदर के काल मैं हुए चन्द्रगुप्त ने सिकंदर के सेनापति सेल्यूकस को दो बार बंधक बना कर छोड़ दिया था। सम्राट चन्द्रगुप्त मौर्य के गुरु चाणक्य थे चद्रगुप्त मौर्य ने सेल्यूकस की पुत्री हेलन से विवाह किया था।

हेलन 


 चन्द्रगुप्त की एक भारतीय पत्नी दुर्धरा थीं ,जिससे बिन्दुसार का जन्म हुआ चन्द्रगुप्त ने अपने पुत्र बिन्दुसार को गद्दी सौंप दी थी बिन्दुसार के समय मैं चाण्यक्य उनके प्रधानमंत्री थे। इतिहास मैं बिंदुसार को "पिता का पुत्र और पुत्र का पिता "कहा जाता है। क्योंकि वे चद्रगुप्त मौर्य के पुत्र और अशोक महान के  पिता थे। चाण्यक और पोरस की सहायता से चन्द्रगुप्त मौर्य मगध के सिंहासन पर बैठे और चन्द्रगुप्त ने यूनानियों के अधिकार से पंजाब को मुक्त करा लिया। चन्द्रगुप्त मौर्य का शासन -प्रबंध बड़ा व्यवस्थित था ,इसका परिचय यूनानी राजदूत मेगस्थनीज़ के विवरण और कौटिल्य के "अर्थशास्त्र "से मिलता है उसके राज्य मैं जनता हर तरह से सुखी थी। 

चाण्यक 


चन्द्रगुप्त मुरा नाम की एक भील महिला के पुत्र थे ,ये महिला धनानंद के राज्य मैं नर्तकी थी ,जिसे राजाज्ञा से राज छोड़कर जाने का आदेश दिया गया था और वह महिला जंगल मैं रहकर जैसे तैसे अपने दिन गुजार रही थी। चन्द्रगुप्त मौर्य के काल मैं भारत एक शक्तिशाली राष्ट्र था। चंद्रगुप्तमौर्य को सम्राट चंद्रगुप्तमौर्य बनाने के लिए  चाण्यक की विशेष भूमिका थी। 

दुर्धरा 

English


Chandragupta Maurya was born in 340 BC, I was born in Patilputra, which is present in Bihar today, Chandragupta, who was in the time of Sikandar, left Sikandar's general Seleucus twice as hostage. Chandragupta Maurya was married to Heluyen, daughter of Seleucus,

 who was the master Chanakya of Emperor Chandragupta Maurya.An Indian wife of Chandragupta was Durdhara from which Bindusara was born Chandragupta handed over the throne to his son Bindusara.during Bindusara, then Chanakya, his prime minister.

 History Bindusara is called "Father of Son and Son of father". Because he was the son of Chandragupta Maurya and father of Ashoka the Great.Chandragupta Maurya with the help of Chanayak and Poras sat on the throne of Magadha and Chandragupta liberated Punjab with the authority of the Greeks. The rule of Chandragupta Maurya was very systematic. its introduction to the description of the Greek Ambassador Megasthenes and the "Economics" of Kautilya, the people of the state were happy in every way.chandragupta was the son of a Bhal woman named Mura. who was a dancer in the state of Dhananand. who was ordered to leave the kingdom with the court order and she was passing her days like a woman staying in the forest. By the time of Chandragupta Maurya. India was a powerful nation. Chanyakya had a special role to make the emperor Chandragupta Moryya.

Post a Comment