Breaking

Search This Blog

Wednesday, June 13, 2018

Navik map !!! Made IN India

नाविक मैप 



अब वो दिन दूर नहीं जब आप स्वदेसी डिजिटल मैप पर अपनी मंजिल देख पाएंगे। दरअसल गूगल मैप को टक्कर देने के लिए भारत ने  Navik नेविगेशन सैटेलाइट सिस्टम लांच करने की अंतिम तैयारी कर ली है। इसरो और इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रोधोगिकी मंत्रालय ने मिलकर इसे अंतिम रूप दिया है। ना सिर्फ भारत बल्कि नेपाल ,भूटान ,पाक और श्रीलंका मैं भी इससे रास्ते तलाशे  जा सकेंगे।फिर हमें किसी विदेशी सेटेलाइट से रास्ता ढूंढने की जरूरत नहीं पड़ेगी। हालांकि ये बात देखने वाली होगी की क्या नाविक मैप गूगल मैप को इंडिया मैं टक्कर दे पायेगा। यह तो आने बाला बक्त ही बताएगा। 

गूगल मैप 


Google मैप   2 टेक्नोलॉजीज पर एक सी ++ डेस्कटॉप प्रोग्राम के रूप में शुरू हुआ था । अक्टूबर 2004 में, कंपनी को Google द्वारा अधिग्रहित किया गया था, जिसने इसे वेब एप्लिकेशन में परिवर्तित कर दिया था। भूगर्भीय डेटा विज़ुअलाइजेशन कंपनी और रीयलटाइम यातायात विश्लेषक के अतिरिक्त अधिग्रहण के बाद, Google मैप  फरवरी 2005 में लॉन्च किया गया था। [सेवा का फ्रंट एंड जावास्क्रिप्ट, एक्सएमएल और अजाक्स का उपयोग करता है। Google मैप  एक एपीआई प्रदान करता है जो मैप्स को तृतीय-पक्ष वेबसाइटों पर एम्बेड करने की अनुमति देता है, और दुनिया भर के कई देशों में शहरी व्यवसायों और अन्य संगठनों के लिए एक लोकेटर प्रदान करता है। Google Map Maker ने उपयोगकर्ताओं को दुनिया भर में सेवा के मैपिंग को सहयोग करने और अपडेट करने की अनुमति दी लेकिन मार्च, 2017 से बंद कर दिया गया।

 जय हिन्द 




Post a Comment