Breaking

Search This Blog

Saturday, July 14, 2018

अदर वर्ल्ड किंगडम ,ऐसा देश जहां पुरुष महिलाओं के गुलाम हैं



अदर वर्ल्ड किंगडम किंगडम नाम के इस देश का निर्माण 1996 ईसवी मैं हुआ था। अदर वर्ल्ड किंगडम देश चेक रिपब्लिक का ही एक हिस्सा था।  जिससे अलग होकर अदर वर्ल्ड किंगडम देश का निर्माण हुआ।  अदर किंगडम देश पर यहाँ की रानी पेट्रिशिया का एकछत्र राज़ चलता है। हालाँकि इसे अन्य राष्ट्रों ने देश का दर्ज़ा नहीं दिया है। इस देश की राजधानी ब्लैक सिटी है।


अदर वर्ल्ड किंगडम 

भारते देश मैं जहां आमतौर पर महिलाओं पर अत्याचार पे अत्याचार किये जाते हैं। वहीं अदर वर्ल्ड किंगडम  जैसे देशों मैं महिलाएं पुरुषों पर राज़ करती हैं। भारत मैं स्त्री को देवी का दर्ज़ा दिया जाता है तो कहीं उन पर जुल्म ढाये जाते। भारत जैसे बड़े आवादी वाले देश महिलाओं के साथ छेड़ छाड़  करना और बलात्कार करना तो जैसे आम बात हो गई हो। हर रोज अखवारों के माध्यम से टीवी न्यूज़ चैनलों के माध्यम हर रोज ऐसी खबरें सुनने को मिल ही जाती हैं। आज के इस तकनीकी युग मैं तो लोग हर दूसरे दिन किसी लड़की की वायरल वीडियो देख ही लेते हैं। भारत जैसे समृद्ध देश मैं जहां महिलाओं पर ऐसे जघन्य अपराध किये जाते हैं वहीँ इतर वर्ड किंगडम जैसे देशों मैं महिलाओं की वगैर इज़ाज़त के वहां के पुरुष शराब का सेवन भी नहीं कर सकते। 

अदर वर्ल्ड किंगडम :इतिहास 

अदर वर्ल्ड किंगडम किंगडम नाम के इस देश का निर्माण 1996 ईसवी मैं हुआ था। अदर वर्ल्ड किंगडम देश चेक रिपब्लिक का ही एक हिस्सा था।  जिससे अलग होकर अदर वर्ल्ड किंगडम देश का निर्माण हुआ।  अदर किंगडम देश पर यहाँ की रानी पेट्रिशिया का एकछत्र राज़ चलता है। हालाँकि इसे अन्य राष्ट्रों ने देश का दर्ज़ा नहीं दिया है। इस देश की राजधानी ब्लैक सिटी है।

अदर वर्ल्ड किंगडम  नाम के इस देश का निर्माण 1996 ईसवी मैं हुआ था। अदर वर्ल्ड किंगडम देश चेक रिपब्लिक का ही एक हिस्सा था।  जिससे अलग होकर अदर वर्ल्ड किंगडम देश का निर्माण हुआ। 
अदर वर्ल्ड किंगडम देश पर यहाँ की रानी पेट्रिशिया का एकछत्र राज़ चलता है। हालाँकि इसे अन्य राष्ट्रों ने देश का दर्ज़ा नहीं दिया है। इस देश की राजधानी ब्लैक सिटी है। 

अदर वर्ल्ड किंगडम :रिवाज़ 

अदर वर्ल्ड किंगडम किंगडम नाम के इस देश का निर्माण 1996 ईसवी मैं हुआ था। अदर वर्ल्ड किंगडम देश चेक रिपब्लिक का ही एक हिस्सा था।  जिससे अलग होकर अदर वर्ल्ड किंगडम देश का निर्माण हुआ।  अदर किंगडम देश पर यहाँ की रानी पेट्रिशिया का एकछत्र राज़ चलता है। हालाँकि इसे अन्य राष्ट्रों ने देश का दर्ज़ा नहीं दिया है। इस देश की राजधानी ब्लैक सिटी है।

अदर वर्ल्ड किंगडम की यह रिवाज़ है की यहां के मूल निवासी होने का दर्ज़ा सिर्फ महिलाओं को दिया जाता है ,पुरुष तो केवल गुलामों की तरह रहते हैं। 



अगर कोई पुरुष यहां शराब का सेवन करना चाहता है तो पहले उसे अपने मालकिन के चरणों मैं शराब चढ़ानी पड़ती है तब ही वह शराब का सेवन कर सकता है। यहाँ के पुरुष बिना महिलाओं की इज़ाज़त के खुश भी नहीं कर सकते। 
अदर वर्ल्ड किंगडम किंगडम नाम के इस देश का निर्माण 1996 ईसवी मैं हुआ था। अदर वर्ल्ड किंगडम देश चेक रिपब्लिक का ही एक हिस्सा था।  जिससे अलग होकर अदर वर्ल्ड किंगडम देश का निर्माण हुआ।  अदर किंगडम देश पर यहाँ की रानी पेट्रिशिया का एकछत्र राज़ चलता है। हालाँकि इसे अन्य राष्ट्रों ने देश का दर्ज़ा नहीं दिया है। इस देश की राजधानी ब्लैक सिटी है।


चेक रिपब्लिक मैं स्थित इस देश के पास अपना झंडा है ,अपना पासपोर्ट है और अपनी ही पुलिस फाॅर्स है। इस देश के निर्माण मैं 12 करोड़ की लागत आई थी। 

तीन हेक्टयर यानी 7.4 एकड़ की भूमि पर बने देश में कई इमारते हैं। 250 मीटर का ओवल ट्रैक, छोटी झील और घास के मैदान हैं। यहां मुख्य इमारत महारानी का महल है। यहीं से पूरे देश का शासन चलता है। यहां दावत हॉल, लाइब्रेरी, दरबार, यातना गृह, स्कूल रूम, जिम और कैदियों को रखने वाले जेल तहखाने हैं। इसके अलावा यहां स्विमिंग पूल, रेस्टोरेंट और वांडा नाइटक्लब भी हैं।




Post a Comment