Breaking

Search This Blog

Tuesday, July 3, 2018

अब नहीं चलेंगे चोरी के मोबाइल | आखिर कितने मोबाइल चलते हैं एक आईएमईआई नम्बर पर

imei,imei tracking,android,imei number,imei location tracking,how to,find imei,find lost phone by imei,que es imei,cambiar imei,bloquear imei,track imei,imei invalido,stolen,stolen phone,track,lost,tutorial,iphone,tracking,root,hindi,phone,phone location,lock phone,location,india,easy,fir,mobile,find,samsung,не верный imei,rastrear celular por imei,como reparar imei invalido,imei movil,para que sirve imei



आखिर कितने मोबाइल चलते हैं एक आईएमईआई नम्बर पर 

हर मोबाईल का एक अपना आईएमईआई (International Mobile Equipment Identity) नम्बर होता है। जिसका उपयोग वैध उपकरणों की पहचान करने के लिए जीएसएम नेटवर्क द्वारा किया जाता है। और इसलिए चोरी किए गए फोन को उस नेटवर्क तक पहुंचने से रोकने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। उदाहरण के लिए, यदि कोई मोबाइल फोन चोरी हो जाता है, तो मालिक अपने नेटवर्क प्रदाता को कॉल कर सकता है और उन्हें अपने आईएमईआई नंबर का उपयोग करके फोन को ब्लैकलिस्ट करने का निर्देश दे सकता है। यह उस नेटवर्क पर बेकार फोन और कभी-कभी अन्य नेटवर्क भी प्रदान करता है, चाहे फोन का ग्राहक पहचान मॉड्यूल (सिम) बदल गया हो या नहीं।

आईएमईआई का उपयोग केवल डिवाइस की पहचान के लिए किया जाता है और ग्राहक के पास स्थायी या अर्ध-स्थायी संबंध नहीं होता है। इसके बजाए, ग्राहक को एक अंतरराष्ट्रीय मोबाइल ग्राहक पहचान (आईएमएसआई) संख्या के संचरण द्वारा पहचाना जाता है, जिसे सिम कार्ड पर संग्रहीत किया जाता है जिसे सिद्धांत में किसी भी हैंडसेट में स्थानांतरित किया जा सकता है। हालांकि, एक ग्राहक द्वारा उपयोग किए जाने वाले मौजूदा डिवाइस को जानकर कई नेटवर्क और सुरक्षा सुविधाएं सक्षम हैं।

रिपोर्ट की माने तो एक ही आइएमइआइ नम्बर पर 18,000 हैंडसेट चल रहे हैं 

अब नहीं चलेंगे चोरी के मोबाइल 

वो दिन दूर नहीं जब चोरी के मोबाइल कूड़ा हो जायेंगे। चोरों के लिए चोरी का मोबाइल चलाना कमाई का जरिया नहीं वल्कि मुसीबत का सौदा बन जायेंगे। दूरसंचार प्रधोगिकी केंद्र (सी-डॉट) नेमोबाइल उपकरण रजिस्टर -एमईआर तंत्र तैयार कर लिया है। इससे चोरी का मोबाइल मिनटों मैं और आसानी से ट्रेस हो जायेगा जबकि आईएमईआई नम्बर बदलने की स्थिति मैं यह महज खिलौना रह जायेगा। सी-डॉट के कार्यकारी निदेशक विपिन त्यागी के अनुसार ,मोबाईल की चोरी या लूट की समस्या से निजात दिलाने के लिए एमईआर को जुलाई से चरणवद्ध तरीके से लागू किया जायेगा। इस तंत्र का ट्रायल महाराष्ट्र मैं पूरा होते ही अगले माह से पुलिस के सुपुर्द कर दिया जायेगा। बीते कुछ सालों से रोजाना हज़ारों मोबाईल चोरी व लूट की घटनाओं को देखते हुए सी-डॉट को या काम सौंपा गया है। देश मैं एक ही आईएमईआई नम्बर पर हज़ारों हैंडसेट चल रहे हैं एमईआर तंत्र मैं विश्वविक तंत्र मोबाइल जीएसएमए की और से जारी आईएमईआई का ही इस्तेमाल होगा। 

                        C-DOT क्या होता है 

cdot honcho,c-dot,cdot,rap,music video,music,c-dot 416,c.dot,c.dot huncho,chicago,lil herb,hip hop,official music video,h3,g herbo,video,honcho,lil jay,la capone,young pappy,chiraq,rated,elevator,hip hop music,in a minute,lil jojo,a zae production,hiphop,capo gbe,lyrical lemonade,videographer,chief keef,lil bibby,worldstarhiphop youtube,youtube worldstarhiphop,worldstarhiphop channel,wshh,rap music,exclusive,wshh exclusive,colors,wmp

सी -डॉट का पूरा नामदूरसंचार प्रौद्योगिकी केंद्र ( Centre for Development of Telematics) है 
टेलीमैटिक्स के विकास केंद्र (सी-डॉट ) एक भारतीय सरकार के स्वामित्व वाली दूरसंचार प्रौद्योगिकी विकास केंद्र है। यह 1994  में डिजिटल एक्सचेंजों के डिजाइन और विकास के प्रारंभिक जनादेश के साथ स्थापित किया गया था। सी-डीओटी ने इंटेलिजेंस कंप्यूटर सॉफ्टवेयर अनुप्रयोगों को विकसित करने के लिए  किया है। इसके  दिल्ली, बैंगलोर और कोलकाता में कार्यालय हैं।

                         GSMA क्या होता है 

gsma,mobile360 gsma,what is gsma mobile world congress and why it is important for electroneum coin in urdu and hindi,komo - lada ya dounia au gsma de combani mgodro mbiwi mayotte,gsma mobile for development,5g,etn,electroneum,ethereum,mobile,iot,mwc18,richard ells,bitcoin,cryptocurrency,crypto,electroneum wallet,price prediction,electroneum news,crypto rich,electroneum ico,electroneum coin

GSMA वह संस्था है जो हरेक मोबाईल के लिए आईएमईआई नम्बर जारी करती है इस नम्बर के बिना कोई भी सिम मोबाइल मैं नहीं चल सकता 

जीएसएमए की पूर्ण सदस्यता जीएसएम परिवार प्रौद्योगिकी का उपयोग कर लाइसेंस प्राप्त मोबाइल ऑपरेटरों के लिए खुला है। दुनिया भर में लगभग 800 ऐसे ऑपरेटर पूर्ण जीएसएमए सदस्य हैं। जीएसएमए की एसोसिएट सदस्यता मोबाइल पारिस्थितिकी तंत्र में सक्रिय गैर-ऑपरेटर कंपनियों के लिए खुली है। इनमें हैंडसेट और डिवाइस निर्माता, सॉफ्टवेयर कंपनियां, उपकरण प्रदाता और इंटरनेट कंपनियां, साथ ही साथ वित्तीय सेवाओं, स्वास्थ्य देखभाल, मीडिया, परिवहन और उपयोगिता जैसे उद्योग क्षेत्रों में संगठन शामिल हैं। इस श्रेणी में लगभग 300 जीएसएमए सदस्य कंपनियां हैं।

जीएसएमए बोर्ड के पास दुनिया के सबसे बड़े ऑपरेटर समूहों के 25 प्रतिनिधि हैं और छोटे ऑपरेटर चुने गए हैं, और सालाना द्विपक्षीय चुने जाते हैं। भारती एंटरप्राइजेज के संस्थापक और अध्यक्ष सुनील मित्तल जनवरी 2017 में जीएसएमए अध्यक्ष बने और दो साल की अवधि की सेवा करेंगे। 
तो अब आप समझ चुके होंगे की जीएसएमए क्या होता है। 
Post a Comment